How To Overcome Laziness While Studying?Study Tips in hindi

दोस्तों आज हम बात करेंगे कि हालत से कैसे बचें ऐसे 4 टिप्स बताऊंगा जो आप फॉलो करेंगे तो आपको हालत कभी नहीं आएगी चलो दोस्तों देखते हैं यह चार

know How To Overcome Laziness While Studying.

#1.just do it

  • दोस्तों हम अपने प्लेन बनाने में बहुत माहिर होते हैं। पर उस चीज को follow करने में हम थोरा पीछे होते हैं। मान लो आप ने सोचा आपको 5:00 बजे उठना है, उठकर पढ़ना है पर 5:00 बजे आने से हम बोलते हो और 5 मिनट 10मिनट 15 मिनट और फीर 20 मिनट आैर सारे दिन पार कर देते हैं|फिर भी हम पढ़ने नहीं बैठते हैं|ये 5 -10 मिनट का चक्कर रुकना चाहिए तो यह रुकेगा कैसे?तो just force yourself to study यह तब करें जब आपके पढ़ने का समय हो जाए तो|इसे खत्म करने के लिए एक इजी मेथड है जो यह 5-10 मिनट का चक्कर आप खत्म कर सकोगे|तो आइए जानते हैं,की इजी मेथड क्या हैNO.2 में|

#2.Minute Mantra

  • 2 मिनट मंत्रा होता क्या है आपको पढ़ाई करने में बहुत परेशानी हो रही है।problem हो रहा है । बहुत laziness हो रहा है। you can’t just start your study.तो आप क्या करेंगे?Subjects उठा लें और उसमें से जो अच्छा लगे वह सिर्फ 2 मिनट पड़े आप जब पढ़ने बैठ जाओगे जो आपका मन थोड़ा- थोड़ा पढ़ाई कर जाने लगेगा फिर भी मन ना लगे तो फिर अगेन 2 मिनट उसी को पढ़ें ऐसे ऐसे कर के 10:00 मिनट|Its only 2 minutes.इसमें क्या है कि आप कहेंगे 2 मिनट तो ही पढ़ना है एक्चुअली में आप पढ़ने तो बैठोगेऔर सबसे difficult चीज यह होती है starting study जब आप एक बार पढ़ने बैठ जाओगे तो आपको मन पढ़ाई की ओर आने लगेगी|से बड़ी बात होती है, स्टडी को स्टार्ट करना|औरआप पढ़ाई स्टार्ट कर दीतो उसे कंटिन्यू कैसे रखें आइए जानते हैं तीसरी टिप में|

#3.The placebo effect

  • इसमें क्या होता है कि आप सोचते हो, कि आप नहीं कर पाएंगे। मैं नहीं पढ़ सकता? मैं नहीं कर सकता? अगर आप नेगेटिव सोचोगे तो आपको करने का मन नहीं करेगा हमेशाpositive सोचिए active  रही है आप Negativeसोचेंगे तो आपका bodyकाम करना बंद कर देगा |आप positive सोचिए और active person का तरह रहिए कि मुझे करना है| अंदर से आवाज दीजिए मुझे करना है|Get up and study तो रेडी हो जाइए आप पढ़ने के लिएअंदर से आवाज लाइए मुझे करना है| मुझे पढ़ना है| और आप कर सकेंगे|Positive thinking  के लिए एक चीज कर सकते हैं |आप अपना कोई भी एक टेस्ट पेपर लीजिए जिसमें आपकी मार्क्स अच्छी हो और उसे पढ़ने का समय अपने पास रखिए| और पढ़ने का मन ना करें उसे देखें उसे देखने से क्या होगा कि आपकी हौसला पॉजिटिव रहेगी और आपको पढ़ने को पढ़ने का मन करने लगेगा|

#4.The chain technique

  • Example Sachin Tendulkar को हर रोज जैसे प्रेक्टिस करना जरूरीMost  important होता है|एक भी दिन अपना प्रेक्टिस को miss नहीं करते थे ।यह जीवन mention this books sachin Tendulkar playing is my way. आप ने पडा होगा सायद।वह book मे अपना पूरा life को लीखे हैं ।एक बार सौरभ गांगुली जी ने बोला था| की सचिन जी का प्रैक्टिस मिस ना हो जाए इसके लिए वह रात रात भर 2:30 बजे 3:00 बजे तक अपने होटल में प्रैक्टिस करते थे|इसलिए Sachin Tendulkarमास्टर ब्लास्टर कहलाए जाते हैं और Sachin Tendulkar अपना सक्सेस पाएं|
  • दोस्तों आपको भी यही करना है, एक भी दिन आपकी पढाई मिस ना हो जाए इसलिए आपको हर रोज जी जान लगाकर पढ़ाई करना है| और एक भी दिन मिस होने मत दे|  इसे  करने से क्या होता है?कि आपको हैबिट हो जाएगा |औरआपको किसी चीज को हैबिट हो जाए तो उससे छुड़ाना बहुत ही नामुमकिन होता है| तो यह करने के लिए आपको अपने पढ़ाई को हैबिट बनाइए |तब देख  पढ़ने का मजा क्या है ?उस समय किसी को बोलना नहीं पड़ेगा जाकर पढ़ने बैठो आप खुद पढ़ने बैठ जाओगे क्योंकि आप की हैबिट हो चुकी होगी|
  • chain techniqueमें क्या होता है| आप जिस भी दिन पढ़े उस दिन को आप ठीक लगाएं और आपको जो पढ़ना था वह पढ़ चुके अपने सिलेबस कंप्लीट हो गया| आप अपने गोल को अचीव कर लिए हैं |आप उस दिन को tik लगाइए next day again achieve your study goals इसका मतलब आप जिस भी दिन पढ़ रहे हो उसे ठीक लगाएं| और जिस दिन नहीं पढ़ रहे हो उस दिन क्रॉस ठीक लगाएं | रिजल्ट तुरंत मिल जाएगी|

Also Read:4 SCIENTIFIC STUDY TIPS FOR GETTING 1ST CLASS DESIRE IN HINDI

 

Updated: March 11, 2018 — 5:29 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Hussain Gi Technical © 2018 Frontier Theme